Thursday, 2 March 2017

Commodity Market Update 2-March-2017

कमोडिटी बाजारः बेस मेटल्स में उछाल, चौतरफा तेजी 
नॉन एग्री कमोडिटी में आज बेस मेटल में एक्शन ज्यादा है और मांग बढ़ने के अनुमान से कॉपर समेत सभी मेटल उछल गए हैं। चीन के आंकड़ों ने मेटल में नई जान डाल दी है। चीन का मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई 3 महीने की ऊंचाई पर पहुंच गया है। वहीं अमेरिका में मांग बढ़ने के अनुमान से भी बेस मेटल्स को सहारा मिला है। 
आज के कमोडिटी बाजार में ट्रेडिंग टिप्स के लिए हमारी वेबसाइट पर जाये और अपना नंबर रजिस्टर करे -- www.capitalheight.com/freetrial.php 
फिलहाल एमसीएक्स पर कॉपर 1.75 फीसदी की तेजी के साथ 407.8 रुपये पर कारोबार कर रहा है, जबकि एल्युमीनियम 1.3 फीसदी बढ़कर 129.5 रुपये पर पहुंच गया है। निकेल 0.9 फीसदी की बढ़त के साथ 739.6 रुपये पर कारोबार कर रहा है। लेड 1.5 फीसदी से ज्यादा उछलकर 152.9 रुपये पर पहुंच गया है। जिंक 2.25 फीसदी की मजबूती के साथ 192.15 रुपये पर कारोबार कर रहा है। 

सोने में आज गिरावट देखने को मिल रही है। फिलहाल एमसीएक्स पर सोना 0.5 फीसदी की गिरावट के साथ 29,415 रुपये पर कारोबार कर रहा है। चांदी 0.2 फीसदी की मामूली बढ़त के साथ 43,320 रुपये पर कारोबार कर रही है। कच्चे तेल में जोरदार उछाल नजर आ रहा है। फिलहाल एमसीएक्स पर कच्चा तेल 1.8 फीसदी उछलकर 3630 रुपये पर कारोबार कर रहा है। नैचुरल गैस 0.25 फीसदी गिरकर 184.5 रुपये पर कारोबार कर रहा है। 

ऊंची कीमतों पर मांग में कमी से चीनी में आज तेज गिरावट आई है। एनसीडीईएक्स पर चीनी का दाम 0.8 फीसदी गिरकर 3800 रुपये के करीब आ गया है। वहीं मसालों में हल्दी करीब 2 फीसदी लुढ़ककर 6750 रुपये पर आ गई है। ऊंझा में जीरे में भारी गिरावट आई है। इसका दाम करीब 300 रुपये गिरकर 16,700 रुपये के स्तर पर आ गया है। दरअसल मंडी में आज करीब 27,000 बोरी जीरे की आवक हुई है।

Wednesday, 1 March 2017

Today's Market Strategy for Commodity Market

कमोडिटी बाजार में आज क्या हो रणनीति  
ट्रंप के भाषण के बाद से ग्लोबल मार्केट में सोने की कीमतों में गिरावट बढ़ गई है। कॉमैक्स पर सोने का दाम करीब 0.5 फीसदी गिरकर 1245 डॉलर के नीचे आ गया है। दरअसल डॉलर करीब 0.5 फीसदी तक मजबूत हो गया है। ऐसे में सोने की कीमतों पर दबाव बढ़ गया है। घरेलू बाजार में भी सोने की मांग कम होने की वजह से इसमें करीब 2 डॉलर प्रति औंस का डिस्काउंट शुरू हो गया है। वहीं चांदी में भी बिकवाली हावी है। हालांकि कच्चे तेल में तेजी का रुख है और ब्रेंट का दाम फिर से 56 डॉलर के पार है। इस बीच रेटिंग एजेंसी मूडीज ने इस पूरे साल के दौरान कच्चे तेल को 40-60 डॉलर के दायरे में रहने की संभावना जताई है। हालांकि डॉलर में आई तेजी से रुपये में कमजोरी बढ़ गई है।
आज के कमोडिटी बाजार में ट्रेडिंग टिप्स के लिए हमारी वेबसाइट पर जाये और अपना नंबर रजिस्टर करे -- www.capitalheight.com/freetrial.php 
घरेलू बाजार में एमसीएक्स पर सोना 0.6 फीसदी की कमजोरी के साथ 29380 रुपये के नीचे आ गया है वहीं चांदी 0.3 फीसदी की कमजोरी के साथ 43110 रुपये के आसपास दिख रही है। एमसीएक्स पर कच्चा तेल 1.5 फीसदी की उछाल के साथ 3625 रुपये के करीब नजर आ रहा है जबकि नैचुरल गैस 0.5 फीसदी की बढ़त के साथ 185 रुपये के ऊपर दिख रहा है। 
एग्री कमोडिटी में गेहूं का दाम हाजिर में काफी गिर गया है और मध्यप्रदेश की मंडियों में ये एमएसपी से करीब 75 रुपये नीचे बिक रहा है। एमसीएक्स पर क्रूड पाम तेल का मार्च वायदा 1.7 फीसदी गिरकर 540 रुपये के नीचे आ गया है वहीं एनसीडीईएक्स पर सरसों का अप्रैल वायदा 0.4 फीसदी की बढ़त के साथ 3865 के आसपास दिख रहा है।

Monday, 28 November 2016

कमोडिटी बाजार में आज क्या हो रणनीति

उत्पादन में कटौती को लेकर तेल उत्पादक देशों के बीच सहमति नहीं बनता देख कच्चा तेल फिर से दबाव में आ गया है। शुक्रवार करीब करीब 3 फीसदी की भारी गिरावट के बाद आज फिर इसमें दबाव बना हुआ है। दरअसल पिछले हफ्ते दोहा की बैठक में शामिल हाने से सऊदी अरब ने इनकार कर दिया था। साथ ही कहा है कि उत्पादन में कटौती के बगैर अगले साल मार्केट की स्थिति सुधर जाएगी। ऐसे में 30 नवंबर को विएना में होने वाली ओपेक की बैठक में उत्पादन कटौती पर फैसले को लेकर संदेह बढ़ गया है और इसीलिए क्रूड में गिरावट आई है। 

इस बीच डॉलर में आई नरमी से सोना फिर से उछल गया है और कॉमैक्स पर इसका दाम 1190 डॉलर के पार चला गया है। फिलहाल इसमें करीब 1 फीसदी की बढ़त पर कारोबार हो रहा है। जबकि चांदी में करीब डेढ़ परसेंट की तेजी आई है। हालांकि गोल्ड ईटीएफ की होल्डिंग में गिरावट जारी है। वहीं एलएमई पर जिंक का दाम पिछले 9 साल के ऊपरी स्तर पर चला गया है। वहीं लेड 5 साल के रिकॉर्ड स्तर पर कारोबार कर रहा है। दोनों में आज करीब 5-6 फीसदी ऊपर कारोबार हो रहा है। जबकि कॉपर भी करीब 1.5 फीसदी ऊपर है। आज डॉलर के मुकाबले रुपये में कमजोरी है।  

आज की कमोडिटी कॉल्स के लिए अभी क्लिक करे और पाए फ्री ट्रायल।
OR Missed Call @ 830-630-830-8

Saturday, 26 November 2016

Commodity Market News 26-Nov-2016

Cash Crunch Hits Gold Demand During Peak Wedding Season
Gave Corrupt No Time To Prepare, Says PM, Pitches For Digital Eco
Click Here:
For details visit us @  
Give a Missed Call at "830-630-830-8"
Mumbai resident Shashikant Zhalte's wedding this weekend will be less sparkling than his family had hoped, thanks to a cash shortage following Indian Prime Minister Narendra Modi's shock withdrawal of high-value notes to fight "black money".  
Zhalte bought gold jewellery for his wife-to-be months ago, but had delayed purchases for his mother and sisters.  
Then came the Modi bombshell on November 8, in the middle of the wedding season when gold demand spikes, forcing Zhalte to drop his plans to buy an additional 50 gms, worth around $2,200.
The scenario is being played out across India, the world's second biggest consumer of gold, where it is customary to gift jewellery in marriages.  
The wedding season stretches from September to April, and Thomson Reuters-owned metals consultancy GFMS says it accounts for more than half of the country's annual demand for gold.  
More than two-thirds of that demand of around 800 tonnes a year comes from the countryside, where farmers are struggling to get enough cash to buy seeds and fertilisers in the sowing season. Penetration of credit or debit cards and money apps is very low in rural India.

Friday, 25 November 2016

Commodity Market Updates -- सोने में आगे भी जारी रहेगी गिरावट, 28 हजार के नीचे आ सकते हैं भाव

डॉलर में मजबूती और फेड द्वारा दिसबंर में ब्याज दरें बढ़ाने के संकेत के चलते ग्लोबल मार्केट में सोना 9 महीने के निचले स्तर पर आ गया है। वहीं घरेलू मार्केट में भी सोने में गिरावट बनी हुई है और सोना 28,700 प्रति दस ग्राम पर आ गया है। निवेश के लिहाज से सेफ हेवन माना जाना वाला सोना अब निवेशकों की पहली पसंद नही रहा है। एक्सपर्ट्स के मुताबिक सोने में यह गिरावट आगे भी जारी रहेगी और अगले 15 दिनों में घरेलू मार्केट में कीमतें 28 हजार के नीचे आ सकती हैं। 
Gave Corrupt No Time To Prepare, Says PM, Pitches For Digital Eco
Click Here:
For details visit us @  
Give a Missed Call at "830-630-830-8"
घरेलू मार्केट में इन वजहों से है गिरावट  
नोटबंदी का असर - भारत में सरकार के 500 और 1000 के नोट बैन करने का असर ज्वैलर्स के बिजनेस पर पड़ा है। केडिया कमोडिटी के मैनेजिंग डायरेक्टर अजय केडिया के मुताबिक घरेलू मार्केट में सोने की कीमतें बहुत हद तक ग्लोबल सेंटीमेंट्स पर टिका होता है। अगर ग्लोबल मार्केट का सेंटीमेंट ऐसा ही बना रहा तो देश में नोटबंदी का इंपैक्ट खत्म होने के बाद भी सोने की कीमतों में गिरावट जारी रहने वाली है। 
डॉलर में लगातार मजबूती – रुपए में लगातार गिरावट जारी है। एक डॉलर के मुकाबले रुपए की कीमत 69 प्रति डॉलर के रिकॉर्ड निचले स्तर के करीब आ चुका है,जबकि डॉलर 14 साल के उच्चतम स्तर पर जा पहुंचा है। इसका सीधा असर सोने की कीमतों पर देखा जा रहा है। बुलियन ज्वैलर्स एसोसिएशन के चिव योगेश सिंघल के मुताबिक ग्लोबल मार्केट में ट्रंप के चुनाव जीतने के बाद से डॉलर में लगातार तेजी बनी हुई है। सिंघल का कहना है कि सोने में आने वाले समय में गिरावट जारी रहने के संकेत है।  
सेफ हैवन निवेश नहीं रहा सोनाः सोना को हमेशा से निवेश के लिहाज से सेफ हेवन माना जाता रहा है। लेकिन सोने में गिरावट के संकेत के चलते सोना से पैसा निकाल कर इक्विटी और दूसरे जगहों पर लगा रहे हैं। इस कारण सोने में गिरावट का रुख बना हुआ है।  
SPDR होल्डिंग्स ने बेचा 16 टन सोना 
दुनिया के सबसे बड़े एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ईटीएफ) SPDR होल्डिंग्स ने ओपन मार्केट में 16 टन सोना बेच दिया है। इसीलिए अब माना जा हा है कि सेफ इन्वेस्टमेंट डिमांड के चलते सोने में आई तेजी अब खत्म हो चुकी है। लिहाजा एक्सपर्ट्स का कहना है कि दिसंबर अंत तक सोने की कीमतें गिरकर 28 हजार रुपए प्रति दस ग्राम के नीचे आ सकती हैं।

Tuesday, 22 November 2016

Commodity Market Updates -- क्या गोल्ड को लेकर सरकार कड़े नियम जारी कर सकती है?

क्या गोल्ड को लेकर सरकार कड़े नियम जारी कर सकती है? ट्रेडर्स परेशान सराफा  
व्यापारियों के बीच यह शंका जोर पकड़ रही है कि पीएम नरेंद्र मोदी जल्द ही विदेशों से सोना खरीद को लेकर भी कुछ कड़े नियम जारी कर कर सकते हैं. इसी डर से कई भारतीय कारोबारी भारी मात्रा में सोना एकत्र करके रख रहे हैं और विदेशों से सोना मंगवाकर रख रहे हैं. दरअसल पीएम मोदी के काले धन पर लगाम के लिए 500 और 1000 रुपए के नोटों पर बैन के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि पीएम काले पैसे को खत्म करने के लिए अब गोल्ड को लेकर भी कुछ नियंत्रण लगा सकते हैं. यह कहना है करोबारियों और सुनारों का. 
काले धन पर कार्रवाई : 25 शहरों में 600 ज्‍वैलर्स से एक्‍साइज विभाग ने सोने की बिक्री का मांगा ब्‍यौरा
For details visit us @  
Give a Missed Call at "830-630-830-8"
भारत दुनिया में दूसरा सबसे बड़ा सोने का खरीददार देश है. अनुमानत: इसकी सालाना मांग 1000 टन है जिसका एक-तिहाई ब्लैक मनी के जरिए चुकाया जाता है, यह वह ब्लैक मनी है जो नकद में है और किसी भी अकाउंट में दर्ज नहीं है. पीएम मोदी कह चुके हैं कि नोटबंदी के ऐलान के बाद अभी कुछ और कड़े फैसले लिए जाने हैं हालांकि उन्होंने ये कड़े नियम क्या होंगे, यह स्पष्ट नहीं किया.  

सोने की चमक घटी, लेकिन नहीं मिल रहे खरीदार और निवेशक गोल्ड 
ट्रेडिंग को 8 नवंबर के बाद से अब तक सोने के दाम में आई 7.33 पर्सेंट गिरावट का फायदा नहीं मिल पाया है। सोमवार को मुंबई में सोने का भाव 29,445 रुपये प्रति 10 ग्राम रहा। नोटबंदी के चलते पिछले दो हफ्तों में सोने का बिजनेस 75 पर्सेंट तक घट गया है। ज्वैलर्स को अपने यहां इनकम टैक्स अफसरों के आ धमकने का डर सता रहा है। इससे भी मार्केट का मूड खराब चल रहा है।  
ट्रेडर्स और ज्वैलर्स बाजार में बनी अनिश्चतता खत्म करने के लिए फाइनेंस मिनिस्ट्री से संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं। साथ ही वे सभी ज्वैलर्स को 500 और 1000 रुपये के पुराने करेंसी नोट में गोल्ड बेचने से परहेज करने की सलाह दे रहे हैं। वे उनसे यह भी कह रहे हैं कि अगर उनकी जानकारी में कहीं ऐसा होने की बात आती है तो वे उनके बारे में तुरंत अथॉरिटीज को बताएं। 
कोटक महिंद्रा बैंक में ग्लोबल ट्रांजैक्शंस और प्रेसियस मेटल्स के बिजनेस हेड शेखर भंडारी कहते हैं, 'अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने का भाव अगले कुछ हफ्तों में 14 दिसंबर को फेडरल ओपन मार्केट कमेटी की मीटिंग तक 1200 डॉलर प्रति औंस से नीचे $1175 -$1180 प्रति औंस तक आ सकता है।'

Monday, 21 November 2016

कमोडिटी बाजारः क्रूड में जोरदार तेजी, क्या करें

कच्चे तेल में जोरदार तेजी आई है। घरेलू बाजार में क्रूड का दाम करीब 2.5 फीसदी उछल गया है। एमसीएक्स पर कच्चा तेल 3215 रुपये पर कारोबार कर रहा है। वहीं नैचुरल गैस में भी करीब 3.5 फीसदी ऊपर कारोबार हो रहा है। एमसीएक्स पर नैचुरल गैस का भाव 200 रुपये के ऊपर पहुंच गया है। दरअसल ग्लोबल मार्केट में क्रूड में करीब 1 फीसदी की तेजी आई है और इसी का असर घरेलू कारोबार पर पड़ा है। 
इन 5 कारणों से इस हफ्ते भी मार्केट में जारी रह सकता है उतार-चढ़ाव, संभलकर करें निवेश
For details visit us @  
Give a Missed Call at "830-630-830-8"
वहीं बेस मेटल्स में कॉपर करीब 2 फीसदी उछल गया है। निकेल, जिंक और लेड में भी जोरदार बढ़त पर कारोबार हो रहा है। एमसीएक्स पर कॉपर 2.3 फीसदी की मजबूती के साथ 379.6 रुपये के ऊपर पहुंच गया है। निकेल 3 फीसदी बढ़कर 762.9 रुपये पर पहुंच गया है। एल्युमीनियम 1.2 फीसदी की बढ़त के साथ 116.7 रुपये पर कारोबार कर रहा है। लेड 2 फीसदी की तेजी के साथ 147.9 रुपये पर कारोबार कर रहा है। जिंक 1.8 फीसदी उछलकर 175.85 रुपये पर कारोबार कर रहा है। 

मेटल में आई तेजी से चांदी का दाम भी करीब 1 फीसदी उछल गया है। एमसीएक्स पर चांदी 0.8 फीसदी बढ़कर 40700 रुपये के आसपास नजर आ रही है। सोने में भी तेजी देखने को मिल रही है। एमसीएक्स पर सोना करीब 0.5 फीसदी की तेजी के साथ 29060 रुपये पर कारोबार कर रहा है। 

वहीं एग्री कमोडिटी में खाने के तेलों में करीब 0.5-1 फीसदी ऊपर कारोबार हो रहा है। सरसों और सोयाबीन भी करीब 1 फीसदी चढ़ गए हैं। ग्वार में भी बढ़त पर कारोबार हो रहा है। इस बीच नोटबंदी से कमोडिटी कारोबार पर बड़ा असर पड़ा है। मंडियों में कमोडिटी की आवक में भारी गिरावट आई है। कारोबार भी करीब 75 फीसदी तक कम हो गया है।